Menu Close

जानिए कैसे करे उपयोग ताकि मिले भरपूर कची हल्दी के फायदे

कची हल्दी के फायदे

कच्ची हल्दी रोगियों के लिए बहुत फ़ायदेमंद होती है। कच्ची हल्दी में इन्सुलिन का स्तर कम करने का गुण होता है। कच्ची हल्दी रोग पैदा करने वाले फ्री रेडिकल्स जो शरीर के प्राकृतिक सेल्स को नष्ट करते है उनको शरीर में पनपने नहीं देती। कची हल्दी के फायदे ढेर सारे होते हैं। कच्ची हल्दी का उपयोग चेहरे की सुंदरता निखारने के साथ साथ शरीर की कई बिमारियों से बचने के लिए भी किया जाता है।

Contents hide
2 कची हल्दी के फायदे-Kachi Haldi Ke Fayde

सर्दी जुकाम के लिए एक चुटकी हल्दी ही जादू का काम करती है। कोरोना काल में तो हम सभी ने हल्दी के औषधीय गुण देखे ही हैं। तो आइये जानते है कच्ची हल्दी के गुणों को।

कच्ची हल्दी कैसी होती है

कच्ची हल्दी अदरक की तरह गांठ जैसी है इसमें वोलाटाइल नामक तेल पायाा जाता है जिसमे रोग प्रतिरोधक गुण होते है जो कैंसर जैसी बीमारी पर भी भी प्रभाव हैं। कच्ची हल्दी के औषधीय गुण हल्दी पाउडर की तुलना में कहीं अधिक होते  हैं। कच्ची हल्दी से निकलने वाला पीला रंग हल्दी पाउडर की तुलना में अधिक गड़ा होता है

See also  यूरिक एसिड में क्या क्या सावधानियां बरतें?

कची हल्दी के फायदे-Kachi Haldi Ke Fayde

कच्ची हल्दी लाभकारी है इम्युनिटी बूस्टर में-Haldi Khane Ke Fayde

कची हल्दी एक प्राकृतिक इम्युनिटी बूस्टर है। कच्ची हल्दी हमारे शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करती है। इसका एक मुख्य घटक लिपोपोलीसेकराइड होता है जिसमे एन्टीवैक्टीरियल एंटीफंगल एंटीवायरल गुण पाए जाते हैं। जो शरीर की रोग प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाते हैं। जिसके कारण कच्ची हल्दी बुखार से लेकर गले के दर्द व घुटनों के दर्द में सामान रूप से उपयोगी होती है।

कच्ची हल्दी रखे स्वस्थ पाचन तंत्र को-Haldi Ke Fayde

कच्ची हल्दी में मौजूद क्यूरक्युमिन नामक अव्यय पित्त उत्पादन को एक्टिवेट करता है। पित्त की अधिकता से खाना जल्दी से पच जाता है। पाचन क्रिया सुचारू रूप से होने के कारण पेट में सूजन और गैस की समस्या नहीं होती।

पाचन क्रिया करे दुरुस्त
पाचन क्रिया करे दुरुस्त

कच्ची हल्दी डाइबिटीज में भी है लाभकारी-Haldi Ka Upyog

कची हल्दी के सेवन से भोजन का पाचन अच्छे से होता है। कच्ची हल्दी इन्सुलिन के स्तर को संतुलित करती है। इन्सुलिन की अधिकता या कमी ही शुगर जैसी बीमारी की वजह होती है जब शरीर में इन्सुलिन की मात्रा संतुलित होती है तो डायबिटीज़ अर्थात शुगर भी कंट्रोल में रहती है।

कच्ची हल्दी उपयोगी है त्वचा व चेहरे के लिए-Kachi Haldi Benefits For Skin In Hindi

कच्ची हल्दी के चेहरे एवं शरीर पर उपयोग से त्वचा निखरती है। कच्चे दूध या दही के साथ बेसन और हल्दी मिलाकर लगाने से त्वचा की टैनिंग दूर होती है एवं त्वचा एवं चेहरे पर निखार आता है।

कच्ची हल्दी का प्रयोग दादी नानी उबटन में सदियों से करती आयी हैं। दुल्हन का रूप निखारने के लिए भी उसे कच्ची हल्दी ही लगायी जाती है।

कच्ची हल्दी फायदेमंद है दिल के लिए-Haldi Ke Gun

कच्ची हल्दी को आर्युवेद में ओषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है। कच्ची हल्दी के निरंतर सेवन से शरीर के हानिकारक टोक्सिन बाहार निकल जाते हैं जिससे ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है और धमनियों एवं शिराओ में बहने वाला रक्त गाड़ा नहीं होता एवं रक्त का परभाव सुचारू रूप से होता है।

See also  जानिए आपकी सेहत के लिए क्या है फिगारो आयल के फायदे

दिल की बीमारियां काफी हद तक कम हो जाती हैं विज्ञान मे रिशर्च द्वारा भी प्रूव हुआ है कि हल्दी वाले दूध के सेवन से सर्जरी के बाद होने वाले हार्ट अटैक की दर दर में कमी आयी है। कच्ची हल्दी कोलेस्ट्रॉल के लेवल को संतुलित करने में उपयोगी होती है।

कच्ची हल्दी फायदेमंद है त्वचा के रोगों में-Kachi Haldi Benefits For Skin In Hindi

कच्ची हल्दी में एंटीसेप्टिक एवं एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो सोरायसिस जैसे त्वचा रोगों से बचाव करती है। चेहरे की झाइयों को दूर करने के लिए कच्ची हल्दी को पीस कर खीरे के रस के साथ मिलकर चेहरे पर लगाने से चेहरे की झाइयां दूर होती हैं। चर्म रोगों मे कच्ची हल्दी व आवले का रस मिलकर पीने से लाभ मिलता है।

कच्ची हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं जो त्वचा पर पड़ने वाली झुर्रियों व पिग्मेन्टेशन को रॉकने में प्रभावी हैं.

कच्ची हल्दी गुणकारी है अस्थमा में-Haldi Ke Labh

अस्थमा
अस्थमा

एक चौथाई चम्मच कच्ची हल्दी को आधा चम्मच शहद मिलकर खाने से अस्थमा में तत्काल लाभ मिलता है। कच्ची हल्दी का एक छोटा टुकड़ा मुँह में लेकर चूसने से लगातार रूक रूक कर होने वाली खाँसी में रहत मिलती है। जुकाम व खांसी होने पर गरम दूध में सोंठ पाउडर व कच्ची हल्दी का पाउडर डाल कर पीने से जुकाम व खासी दूर होती है।

कच्ची हल्दी लाभकारी है चोट में-Haldi Ke Faide

कच्ची हल्दी सरसों के तेल में गर्म करकेअगर चोट पर लगाई जाये तो वह घाव को पकने नहीं देती अंदरूनी चोट में गर्म दूध में हल्दी मिलकर पीने से चोट जल्दी ठीक होती है। कच्ची हल्दी, खाने वाला चूना व शहद मिलाकर चोट या मोच की जगह पर लगाने से चोट एवं मोच तुरंत ठीक होती है।

See also  जानिए क्या है दिव्य किट के फायदे-Divya Kit In Hindi

कच्ची हल्दी है रक्त शोधक-Kachi Haldi Benefits For Skin

कच्ची हल्दी में एंटीसेप्टिक व एन्टीबैक्टिरीअल गुण पाए जाते हैं जिसके कारण कच्ची हल्दी खून को साफ़ करती है व रक्त की अशुद्धि के कारण कील मुहांसों व फोड़े फुंसियों को दूर करती हैं। कच्ची हल्दी में मुहांसों की सूजन दूर करती है हल्दी तैलीय त्वचा की अतिरिक्त चिकनाहट को दूर कर त्वचा को स्निगध बनती है। आटा शहद दूध व कच्ची हल्दी का फेस पैक त्वचा को कांतिमान बनता है।

कच्ची हल्दी गुणकारी है गठियां में-Kachi Haldi Ke Fayde

कच्ची हल्दी का नियमित सेवन करने से रोगी को जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। कच्ची हल्दी गठिया के रोगी की जोड़ों की सूजन को कम करने में कारगर होती है। कच्ची हल्दी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर में हानिकारक रेडिकल्स को नष्ट करने में सहायक होते हैं।

कच्ची हल्दी है मासिक धर्म में उपयोगी-Haldi Khane Ke Fayde

कच्ची हल्दी सुबह सुबह पानी या दूध के साथ लेने से मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द व ऐठन से राहत मिलती है एवं पीरियड भी नियमित होते हैं।

कच्ची हल्दी बढ़ाये याददाश्त-Haldi Ke Fayde In Hindi

कच्ची हल्दी में मौज़ूद टारमरों नमक अव्यय मस्तिष्क की कोशिकाओं की मरम्मत में मददगार होता है जो मानसिक बिमारियों की संभावनाओं को कम करता है। यह मस्तिष्क में प्लाक के गठन को रोकता है जिससे मस्तिष्क में रक्त एवं ऑक्सीजन का प्रवाह सुचारू रूप से होता है।

कच्ची हल्दी लाभकारी है कैंसर में-Haldi Ke Fayde

कच्ची हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नमक घटक ट्यूमर सेल्स के प्रसार को काम करने एवं उन्हें बनने से रोकने में सक्षम होता है यह प्रोस्टेट ,स्तन व लंग्स कैंसर से बचाव में सहायक होता है।

तो इस तरह से आप सभी ने देखा की एक छोटी सी कच्ची हल्दी की गांठ में कितने सरे फायदे छुपे होते हैं तो फिर हो जाइय शुरु कच्ची हल्दी को अपने घर अपने रसोई घर में जगह देने के लिए।

error: Content is protected !!