मेन्यू बंद करे

Category: घरेलू नुस्खे

हरसिंगार का पत्ता के फायदे

बीमारियों से निजात के लिए जाने हरसिंगार का पत्ता के फायदे

हरसिंगार का नाम वनस्पति शास्त्र और आयुर्वेद में काफी प्रचलित है। इसका बोटैनिकल नेम निक्टेन्थिस आर्बोर्ट्रिस्टिस है। इसका लगभग हर एक भाग मेडिकल में प्रयोग…

दाने वाली खुजली का उपचार

दाने वाली खुजली का उपचार कैसे करें-Khujali Ke Gharelu Upay

खुजली जो एक बार हो जाए तो रात की नींद और दिन का चैन छीन लेती है। खुजली कभी किसी इन्फेक्शन, कभी किसी दवाई के…

हेयर स्पा

घर बैठे हेयर स्पा करने का तरीका-Hair Spa Karne Ka Tarika

हेयर स्पा से बालों को उचित पोषण मिलता है इससे बालों के झड़ने, टूटने व बेजान होने की समस्याएं दूर होती हैं। और बालो मे…

वात रोग की पहचान

वात रोग क्या है? जानिए कैसे करे वात रोग की पहचान-Vaat Rog Ke Lakshan

आयुर्वेद के अनुसार सभी रोगों का मुख्य कारण वात, पित्त और कफ दोष होता है। अग्नि, पृथ्वी, जल, वायु और आकाश इन सभी तत्वों से…

आयरन की कमी से रोग

जानिए कौन से है आयरन की कमी से होने वाले रोग-Iron Ki Kami Se Hone Wale Rog

हमारे शरीर मे जिन तत्वों की सबसे ज्यादा जरूरत होती है उनमें आयरन सबसे खास है। आखिर ऐसा क्यों? आज इस आर्टिकल में हम आपको…

कद बढ़ाने के घरेलू तरीके

छोटे कद से हैं परेशान, तो अपनाएँ कद बढाने के घरेलू तरीके

लम्बा कद होना मतलब, आकर्षण की एक सीढ़ी चढ़ जाना। यूं तो सुंदरता के कई पैमाने होते है जैसे लम्बे बाल, तीखे नयन नक्श। पर…

पीरियड मिस होने पर घरेलू उपाय

पीरियड मिस होने पर घरेलू उपाय,जो आप पहले नहीं जानते होंगे

पीरियड शुरू होने से लेकर बन्द होने तक कुछ न कुछ समस्याओं से हर महिला दो चार होती है। कभी ब्लीडिंग ज्यादा तो कभी कम,…

नींबू और शहद के नुकसान

नींबू और शहद के नुकसान, जिन्हें जानना आपके लिए है जरुरी

जब भी कोई व्यक्ति सेहत के बारे में सोचना शुरू करता है, उसे सबसे पहली सलाह दी जाती है कि गर्म पानी नींबू और शहद…

अर्जुन की छाल का प्रयोग कैसे करे

जानिए अर्जुन की छाल का प्रयोग कैसे करें-How To Use Arjun Ki Chaal

अर्जुन का पेड़ एक ऐसा औषधीय पेड़ है जिसके अनगिनत लाभ है। अर्जुन की छाल अंदर से लाल रंग की होती है और पेड़ से…

टाइफाइड जड़ से खत्म करना

बेहद ही आसान है टाइफाइड जड़ से खत्म करना-Typhoid Ka Ilaaj

टायफॉइड एक बैक्टीरियल बीमारी है जो कि साल्मोनेला टाइफाई बैक्टीरिया से फैलती है। यह बैक्टीरिया डाइजेस्टिव सिस्टम और ब्लडस्ट्रीम में इन्फेक्शन के लिए जिम्मेदार होता…