Menu Close

जानिए क्या है खुबानी के फायदे इन हिंदी-Khubani Ke Fayde

खुबानी के फायदे इन हिंदी

खुबानी या एप्रीकॉट एक रसदार गुठली युक्त फल है। यह ताजा भी खाया जाता है और सुखा कर भी। खुबानी भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में पाई जाती है। कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के भी कुछ क्षेत्रों में खूबानीा पायी जाती है। खुबानी को सुखाकर ड्राई फ्रूट्स की तरह जाता है। यह सूखने के बाद और स्वादिष्ट लगती है बल्कि इसमें बहुत सारे फायदे भी होते हैं। आज इस लेख में हम जानेंगे खुबानी के फायदे इन हिंदी।

इस ड्राईफूट्स के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं लेकिन इसके फायदे गजब के हैं। इसमें विटामिन ए, बी ,सी और विटामिन ई पाए जाते हैं। विटामिन के साथ-साथ इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम, कॉपर, फॉस्फोरस आदि भी होता है। खुबानी मैं उचित मात्रा में फाइबर पाया जाता है।

इसका स्वाद थोड़ा मीठा थोड़ा खट्टा सा होता है| खुबानी एक इंस्टेंट एनर्जी फ्रूट है खुबानी को खाते ही तुरंत ताकत आती है तभी तो इसे ड्राई फ्रूट की श्रेणी में रखा गया है।

तो आइए जानते हैं खुबानी के फायदे

खूबानी फायदेमंद है मधुमेह में

खुबानी में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा मे पाया जाते हैं। फाइबर और एंटीऑक्सीडेंटतत्व शरीर में ग्लूकोज जमा होने से रोकते हैं। मधुमेह के मरीज में ग्लूकोज के स्तर को संतुलित करने के लिए खूबानी में चार फेनोलिक कंपाउंड (प्रोसीएनिडिन्स, हाइड्रोक्सीसैनामिक एसिड डेरिवेटिव, फ्लेवोनोल्स और एंथोसायनिन ) होते हैं। ये चारों तत्व मिलकर खुबानी को मधुमेह के लिए फायदेमंद बनाते हैं।

See also  जानिए कौन से है आयरन की कमी से होने वाले रोग-Iron Ki Kami Se Hone Wale Rog

खूबानी फ़ायदेमंद है दिल के लिए

खूबानी के अंदर फाइबर मौजूद होता है। जो कोलेस्ट्रॉल को बैलेंस रखता है। जिसकी वजह से दिल से संबंधित बीमारियाँ दूर रहती हैं। खुबानी बेकार कोलेस्ट्रॉल को घटाता है।और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। जिसके कारण दिल सुचारु रूप से चलता है।

खूबानी बढाता है ऑखों की रोशनी

40 की उम्र के बाद शरीर में कुछ कुछ विटामिन की कमी हो जाती है जिसकी वजह से आंखों की रौशनी कमजोर होने लगती है। खुबानी में विटामिन सी और बी कैरोटीन मौजूद होते हैं जो शरीर में विटामिन की कमी को पूरा करते हैं जिससे आंखों की रौशनी कमजोर होना रूक जाती है।

खुबानी लाभदायक है पाचन में

खुबानी के अंदर फाइबरऔर एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो भोजन को पचाने में सहायक होता है यह फाइबर गैस्ट्रिक और पाचन रस को बढ़ाता है। जो पोषक तत्वों को अवशोषित करने और के लिए भोजन को छोटे छोटे टुकड़ों में तोड़ने में मदद करते हैं। इसके अलावा, फाइबर पाचन तंत्र के गति को सक्रिय करता है |

खूबानी बचाता है कैंसर जैसी बिमारी से

खूबानी की गुठली में विटामिन बी 17 तत्व पाया जाता है जो कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाता है। खुबानी में विटामिन ए और सी भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैंखुबानी में विटामिन ए और सी भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं जो कैंसर सेल्स को नष्ट करने में मदद करती हैं।

कमजोरी दूर करता है खुबानी

लंबे समय तक बीमार होने के कारण कमजोरी होने पर खुबानी के सेवन से लाभ मिलता है। खुबानी का रोज सेवन करने से दुर्बलता कम होती है तथा शरीर की ताकत बढ़ती है।

See also  जानिए पेट खराब होने पर क्या खाएं-Pet Kharab Ka Desi Ilaj

खुबानी बनाए हड्डियों को मजबूत

खूबानी में कैल्शियम, फास्फोरस, मैंगनीज, लोहा और तांबा आदि भरपूर मात्रा मे पाया जाता है। ये सभी खनिज तत्व हड्डियों के निर्माण में एक निश्चित भूमिका निभाते हैं। खूबानी खाने से ऑस्टियोपोरोसिस सहित विभिन्न हड्डियों के रोगों में लाभ होता है।

खूबानी का तेल फायदेमंद है कान के दर्द में

ठंड के कारण कारण होने वाले कान के दर्द में खूबानी का तेल बहुत फायदा करता है | एक-दो बूँद खूबानी का तेल कान में डालने से ठंड से होने वाले कान के दर्द में आराम मिलता है।

खुबानी लाभदायक है बुखार में

खुबानी में विटामिन, खनिज, कैलोरी और एन्भिटीआक्सिडेन्ट पाये जाते हैं जो शरीर की कमजोरी को दूर करने के लिए लाभदायक होते हैं। खूबानी शरीर का डिटॉक्सिफ़िकेशन करने मे सहायक है। खूबानी में पानी भी भरपूर मात्रा मे पाया जाता है जो शरीर के तापमान को संतुलित रखने में सहयोगी होता है।

खुबानी फायदेमंद है त्वचा के लिए

खुबानी का तेल त्वचा द्वारा जल्दी से सोख लिया जाता है। त्वचा पर खूबानी का तेल लगाने के बाद त्वचा तैलीय नहीं लगती है। खुबानी त्वचा चमकदार बनाता है। खूबानी का तेल एक्जिमा, खुजली और कई अन्य त्वचा रोगों के इलाज में सहायता करता है।

यह विशेष रूप से खुबानी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट यौगिकों के कारण होता है। खूबानी में मौजूद विटामिन ए , एंटीऑक्सिडेंट त्वचा को स्वस्थ बनाये रखने के लिए उपयोगी हैं।

खूबानी लाभकारी है एनीमिया में

खूबानी में लोहा और तांबा पापा जाता है। यह खनिज तत्व हीमोग्लोबिन के निर्माण में मदद करते हैं। एमिमिया मुख्य रूप से लोहे की कमी से होता है। एनीमिया में कमजोरी, थकान, हल्के सिरदर्द, पाचन संबंधी परेशानी, सामान्य चयापचय संबंधी समस्याएं होती हैं।।

See also  क्या है नोरोवायरस के लक्षण और इलाज-Norovirus ke lakshan aur Ilaz

लाल रक्त कोशिकाओं के बिना, शरीर अपने आप को ठीक से पुन सक्रिय नहीं कर सकता है और अंगों के सिस्टम खराब होने लगते हैं। लोहा और तांबा लाल रक्त कोशिका के गठन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। ये दोनो खनिज खुबानी में मौजूद हैं, जिससे यह चयापचय को बढ़ावा देने और शरीर को ठीक से काम कर रखने के लिए बहुत ही लाभदायक हैं।

खूबानी लाभकारी है अस्थमा में

खूबानी के तेल में फेफड़ों और श्वसन प्रणाली पर दबाव और तनाव को दूर करने का गुण होता है, जिससे अस्थमा के दौरे को शुरू होने से पहले रोका जा सकता है।

खूबानी फायदेमंद है वजन कम करने में

खुबानी में कैलोरी काफी कम मात्रा होती है। खूबानी में फाइबर भरपूर मात्रा मे पाया जाता है। फाइबर मेटाबालिज्म दर में सुधार करता है और पाचन और विषैले तत्वो के निष्कासन में शरीर प्रक्रियाओं को भी बेहतर बनाने में मददगार है। इसलिए वजन को कम करने के लिए खुबानी का उपयोग किया जाता है। खूबानी में फाइबर की काफ़ी मात्रा पायी जाती है। जिसके कारण पेट भरा भरा लगता है और भूख नहीं लगती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!