Menu Close

जानिए शरीर की पाचन शक्ति कैसे बढाये

पाचन शक्ति कैसे बढाये

पाचन शक्ति कैसे बढाये

ज्यादातर लोगों को यह समस्या होती है, कि भोजन करने के बाद उन्हें एसिडिटी अथवा सर दर्द होना चालू हो जाता है। यह सर दर्द सुचारू रूप से पाचन तंत्र ना काम करने की वजह से होता है यदि पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम नहीं करता है तो विभिन्न रोगों का सामना करना पड़ सकता है। पाचन तंत्र को ठीक रखने के लिए हमें विभिन्न तरीके के फाइबर, संतुलित आहार तथा आवश्यक पोषक तत्व युक्त भोजन करना चाहिए।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि हमारे शरीर में बीमारियों का मुख्य केंद्र हमारा पेट ही होता है क्योंकि इसमें हमारे द्वारा जब खाया गया भोजन इकट्ठा होता है, जिससे यह हमारे पेट में अनावश्यक रूप से जमा हो जाते हैं और हमारे शरीर को क्षति पहुंचाते हैं।

पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय

अधिक मात्रा में पानी पिए

पानी सारे संसार का एक आवश्यक जीवन प्रदान करने वाला तत्व है। पानी के बिना सृष्टि का निर्माण नहीं हो सकता है। उसी तरह पानी के बिना हमारे शरीर का निर्माण नहीं हो सकता है। हमें रोजाना 2 से 4 लीटर पानी पीना चाहिए ताकि हमारे शरीर के खून में घुले हुए हानिकारक पदार्थ पानी के साथ मिलकर हमारे शरीर से बाहर निकल जाए जिससे कि हमारी पाचन शक्ति बढ़ जाती है।

See also  बीमारियों से निजात के लिए जाने हरसिंगार का पत्ता के फायदे

सही दिनचर्या का ध्यान

एक स्वस्थ शरीर के लिए हमारे दिनचर्या का सही होना जरूरी होता है। अगर हमारे दिन भर की गतिविधियां ठीक रही तो हमारा मन मस्ती अच्छे से काम करता है जिससे कि हमारे द्वारा खाए गए भोजन को पाचन में असुविधा होती है।

पूरी नींद

नींद एक आवश्यक क्रिया है, जो शरीर को अगले दिन काम करने के लिए तरो ताजा बनाती है। साथ ही पूरी नींद लेने वाले लोग हमेशा स्वस्थ नजर आते हैं और दिन भर अच्छे से काम कर पाते हैं यदि पूरी नींद नहीं होती है तो खाने में मन नहीं लगता है तथा कम खाना खाकर ही हम सोने लगते हैं जिससे कि हमारे पाचन तंत्र पर प्रभाव पड़ता है।

सही समय में भोजन

हमें हमेशा सही समय में भोजन करना चाहिए क्योंकि हमारे शरीर को उस वक्त की आदत हो जाती है। जब हमारे खाने का टाइम होता है, यदि खाने के समय में अगर खाना ना मिले या हम उसके एक 2 घंटे पहले या बाद में खाए तो हमारे भूख में अथवा भोजन ग्रहण शक्ति में कमी आ सकती है, जिससे पाचन तंत्र पर असर आ सकता है।

सलाद का सेवन

हमें अपने खाने में दाल चावल के साथ साथ सलाद का भी सेवन करना चाहिए। यह खाने को स्वादिष्ट बनाता है तथा खाने के साथ मिलकर पाचन शक्ति में अपना प्रभावी असर प्रदान करता है हमेशा सलाद में नींबू, टमाटर तथा प्याज का इस्तेमाल करें।

अमरूद

अमरूद खाने से हमारे शरीर को विटामिन सी फास्फोरस तथा पोटेशियम आदि आवश्यक पोषक तत्व प्राप्त होते हैं जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं, सारे आवश्यक पोषक तत्व हमारे शरीर को मिलते हैं तो हमारी पाचन शक्ति भी अच्छे से बनी रहती है।

See also  जानिए क्या है ग्रीन कॉफी के फायदे-Benefits Of Green Coffee In Hindi

नींबू

नींबू में भी विटामिन सी पाया जाता है जो पेट से संबंधित विकारों को दूर करने में सहायक होता है। नींबू बदहजमी को रोकने के लिए भी उपयोग करते हैं तथा पेट की गैस एसिडिटी जैसी समस्या को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं जिससे हमारी पाचन शक्ति तंदुरुस्त हो जाती है।

हल्दी का प्रयोग

हल्दी हमारे शरीर के लिए औषधि का कार्य करती है क्योंकि इसमें कुछ ऐसे एल्कलाइन तथा पोषक तत्व पाए जाते हैं जो अपच अल्सर अथवा अन्य पाचन संबंधी बीमारियों को ठीक करने में मदद करती है। हमें प्रतिदिन एक गिलास पानी में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर पीते रहना चाहिए है।

आंवला

आंवले का इस्तेमाल अपने बालों को मजबूत करने के लिए तो पढ़ा ही होगा लेकिन आपको यह भी बता दें है इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी पाचन तंत्र के विकारों को दूर करने में कारगर साबित होता है। इसे काली मिर्च हींग अथवा जीरे के साथ मिलाकर आप रोजाना इस्तेमाल करते हैं तो आपके पाचन शक्ति बढ़ जाती है।

अपने भोजन को चबाकर खाएं

हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि अपने भोजन को सुचारू रूप से चबा चबा कर खाए यह अपनी लार में पूरी तरह से मिलकर हमारे पेट के अंदर जाना चाहिए जिससे कि पाचन शक्ति को बनाए रख सकें।

दही का सेवन

हमें प्रतिदिन एक चम्मच दही का सेवन करते रहना चाहिए क्योंकि इसमें कुछ अम्ल पाए जाते हैं, जो पाचन तंत्र के लिए वरदान साबित होते हैं यह हमारे भोजन को पाचन करने में मदद करते हैं।

See also  चेहरे का कालापन दूर करने के उपाय-Chehre Ka Kalapan Dur Karne Ke Upay

अजवाइन

अजवाइन को पानी में मिलाकर अथवा उबले हुए पानी के साथ पीने से यह हमारे पाचन तंत्र को सही रखने में मदद करता है; और हमारी भोजन करने की क्षमता बढ़ जाती है साथ ही अजवाइन के औषधि रूपी पौधा है जो विभिन्न बीमारियों को ठीक करने में मदद करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!