Menu Close

जानिए कैसे करे बिना किसी साइड इफेक्ट्स के करे पेट कम-Pait kam karne ki dawa

पेट कम करने की दवा

पेट कम करने के लिए अधिकतर लोग एक्सरसाइज, योग, डाइटिंग और घरेलू नुस्खे प्रयोग करते है। पेट अंदर करने के उपाय को अपनाकर सेहतमंद तरीके से मोटापा कम किया जा सकता है पर कुछ लोगों की जिंदगी भागमभाग होती है जिस कारण वे नियमित रूप से इन उपायों को नहीं कर पाते और ऐसे में वे जल्दी पतले होने की दवाई या कोई आसान तरीका जानना चाहते है। आज हम पेट कम करने वाली दवाओ पर चर्चा करेगे जिनके सेवन से कोई नुकसान नही है।

पेट कम करने की दवा-Pait Kam Karne Ki Dawa

‘एग्रीप्योर गार्शिपेन प्लस टेबलेट’

यह आयुर्वेदिक दवा, पेट कम करने में कारगर आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण है। यह पेट कम करने असरदार है। क्योकि ये आसानी से चर्बी उत्पादन रोक देती है और शरीर की जमी हुई चर्बी को जला देती है। शरीर का भरा हुआ कोलेस्ट्रॉल कम करती है। मेटाबॉलिज्म लेवल बढ़ाती है। शरीर का बढ़ा हुआ मोटापा कम करने में मदद करती है। शरीर में स्वाभाविक रूप से काम करती है और कभी कोई दुष्प्रभाव नहीं दिखाती। यह 100% आयुर्वेदिक दवा है।

दिव्य मेदोहर वटी

यह पतंजलि की आयुर्वेदिक दवा है जो पेट अंदर करने के अलावा पाचन शक्ति को भी दरुस्त करने में कारगर है। ये दिव्य मेदोहर वटी पुरे शरीर का वेट लॉस करने की बजाय पेट कम करने में जादा असरदार दवाई है।

See also  कब और कितना खाएं चुकंदर ताकि ना हो ये चुकंदर खाने के नुकसान

त्रिफला और गुग्गुल इस दवा के प्रमुख सामग्री में से एक है। त्रिफला मोटापा कम करने की आयुर्वेदिक दवाई है जो वसा पचाने की प्रक्रिया में सुधार लाती है। गुग्गल भी त्रिफला की तरह पेट की चर्बी घटाने और वजन कम करने में मदद करती है। दिव्य मेदोहर वटी में कुछ और भी औषधियां मौजूद है जो शरीर में वसा जमा नहीं होने देती और साथ ही फैट लॉस की प्रक्रिया को दरुस्त करने में मदद करते है।

ये दवा हार्मोन्स को संतुलन में रखने में मदद करती है। पेट कम के अलावा ये आयुर्वेदिक दवा भूख भी नियंत्रित करती है। ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती है। मेदोहर वटी एक हर्बल मेडिसिन है जिससे वजन कम करने के अलावा ताक़त भी मिलती है।

गर्भवती महिला की डिलीवरी के बाद अक्सर वजन बढ़ जाता है और ऐसे में ये वजन कम करने की दवाई काफी सहायक हो सकती है। इस दवा की खुराक प्रयोग करने वाले के वजन और उसकी उम्र के अनुसार दी जाती है। बच्चों के लिए एक से दो गोली, नौजवानों के लिए दो से तीन गोलियां और वृद्ध लोग एक से दो टेबलेट दिन में दो बार ले सकते है। पतले होने के लिए दिन में तीन बार दो से तीन गोली ले सकते है।
दिव्य मेदोहर वटी के अलावा कुछ और पतंजलि दवाईयां भी है जो पेट अंदर करने में मददगार है जो इस प्रकार है।

  • आंवला जूस
  • एलोवेरा जूस
  • त्रिफला गुग्गुलदिव्य गोधन अर्क
  • दिव्या पेय हर्बल टी

वेट लॉस सप्लीमेंट

यह पेट कम करने का कैप्सूल है। ब्लेसिंग ट्री वेट लॉस सप्लीमेंट में ऐसे तत्व शामिल है जिनके द्वारा फैट बर्न होता और भूख पर नियंत्रण रहता है। ये दवा 100% नैचूरल है और इस सप्लीमेंट के साथ अगर आप वर्कआउट एक्सरसाइज भी करते है तो बहुत जल्द आपको अच्छे रिजल्ट देखने को मिल जायेगे इसमें ग्रीन कॉफ़ी बीन और दूसरे तत्वों के कारण वेट लॉस में मदद करता है। यह पेट कम करने के लिए यह सबसे बेस्ट कैप्सूल है।

See also  कैसा हो टाइफाइड में खान पान ताकि जल्दी स्वस्थ हो जाये आप

एप्पल सीडर विनेगर

एप्पल सीडर विनेगर सबसे अच्छा है क्यों की इसके एक नहीं कई अनेक फायदे है। जैसे की वेट लॉस के साथ साथ इससे बाल अच्छे होते है, चेहरे की स्किन पर निखार आता है और हार्ट के लिए भी अच्छा है। ज्यादातर लोग इसे नॉर्मल यूज़ में लेते ही है, इसके कोई भी साइड इफ़ेक्ट या नुक्सान नहीं है इसलिए आप इसे  बेफिक्र होकर यूज़ करे और फायदा उठाये।

फैट बर्नर मेडिसिन

मार्केट में आपको कई तरह के फैट बर्नर टेबलेट मिल जायेगे पर ज्यादातर केस में लोग सही कंपनी का सही प्रोडक्ट पसंद नहीं कर पाते। आपको बता दू की पतले होने के लिए नटुरीज़ ब्रांड का फैट बर्नर सबसे बेस्ट है।इसमें हर वो तत्व शामिल है जो पेट कम करने के लिए जरुरी है जैसे की ग्रीन टी बीन्स, गार्सीनिअ कम्बोगिआ, कैफीन और क्रोमियम। आज तक जिसने भी इस प्रोडक्ट को यूज़ किया है उसमे से 95% लोगो ने इसके पॉजिटिव रिव्यु दिये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!