मेन्यू बंद करे

जानिए डिलीवरी के बाद क्या क्या खाएं-Delivery Ke Baad Kya Khaye

Delivery Ke Baad Kya Khaye

सभी लोगो को अपने शरीर मे ऊर्जा बनाये रखने के लिए खाने की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन हर व्यक्ति का शरीर अलग अलग प्रकार का होता है,



शरीर मतलब कई लोग मोटे है तो उनको कम फैट वाला भोजन करना चाहिए। इसके अलावा जो लोग पतले होते है, उनके लिए अलग अलग प्रकार का भोजन होता है। जिसमे अधिक फैट हो।




ठीक उसी प्रकार एक गर्भवती महिला होती है। तो उसे गर्भावस्था के दौरान उचित आहार लेने के लिए कहा जाता है। ताकि उसका शरीर स्वस्थ रह सके।



डिलीवरी के पहले तो उचित आहार लेना ही चाहिए बाद में इसकी अति आवश्यकता होती है। क्योंकि डिलीवरी के बाद महिला का शरीर बिल्कुल कमजोर हो जाता है। ऐसा लगता है, जैसे की शरीर मे ऊर्जा ही न हो। इसलिए डिलीवरी के बाद उसके खाने पीने में विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

अगर सही खाने खाएगी तो इससे शरीर को पोषण भी अच्छा ही मिलेगा।

डिलीवरी के बाद महिला को अपने नवजात शिशु को स्तनपान भी करवाना पड़ता है। इसलिए महिला को अधिक पोषण की जरूरत होती है। ऐसे ही कुछ डाइट के बारे में नीचे बताया गया है।

डिलीवरी के बाद क्या-क्या खाना चाहिए-Delivery Ke Baad Kya Khaye

महिला के प्रसव के बाद उसको पौष्टिक तत्वों वाला भोजन कराना चाहिए। उसके भोजन में भरपूर मात्रा में विटामिन, प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम आदि हो।

डेयरी पदार्थ जिसमें फैट कम हो

प्रसव के बाद महिला को डेयरी उत्त्पादो का अधिक सेवन करना चाहिये। डेयरी पदार्थों में कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन ई बहुत ज्यादा मात्रा में पायी जाती है।

यह डिलीवरी वाली महिला को बहुत जरूरी होता है। क्योंकि बाद में उसे दुगने पोषण तत्व की जरूरत होती है। वह अपने शिशु को दूध पिलाती है।

दूध पीने से बच्चें की हड्डियां मजबूत हो जाती है। महिलाओ की डिलीवरी के बाद उनके शरीर मे कैल्शियम की मात्रा कम हो जाती है।

लीन मीट

बहुत सी महिलाएं मांसाहारी भी होती हैं। यह डाइट प्लान इन्ही महिलाओं के लिए है। अगर आप मांसाहारी महिला है तो आप अपने भोजन में लीन मीट का इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर बात करें लीन मीट में तो इसके अंदर आयरन, प्रोटीन और विटामिन B12 की प्रचूर मात्रा होती है।

जब महिला अपने शिशु को दूध पिलाती है, तो उसके शरीर मे ऊर्जा कम हो जाती है। लीन मीट शरीर मे ऊर्जा को बढ़ाता है।

दालें

दाल में प्रोटीन खनिज विटामिन और फाइबर अत्यधिक मात्रा में होती है। सभी डिलीवरी वाली महिलाओं को हरी या लाल दाल को अवश्य खाना चाहिये।




दाल का हलवा बनाकर भी इसका सेवन कर सकती है। दाल शरीर को ताकत प्रदान करती है। और फैट को बढ़ने से रोकती है।

फलियां

फलीयो में राजमा, ब्लैक बीन्स आदि होती है। डिलिवरी वाली महिलाओ को इन फलियों का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। क्योंकि इससे शरीर मे ऊर्जा प्राप्त होती है। वैसे सभी लोगो को फलियों का सेवन करना चाहिए।

फलियों में प्रोटीन होती है। जिससे माँ और शिशु को ऊर्जा मिलती है। महिला को विशेष रूप से इसका प्रयोग करना चाहिये, वो अपने शिशु को दूध पिलाती है, जिससे उनकी ऊर्जा में कमी आ जाती है।

हरी सब्जियां

हरी सब्जियों में विटामिन ए , विटामिन सी और कैल्शियम की अधिकता होती है। हरी सब्जियो में कैलोरी की मात्रा कम होती है। बहुत सी डिलीवरी महिलाओ का वजन बढ़ने लगता है। और हरी सब्जियां वजन को बढ़ने से रोकती है।

हरी सब्जियो में परवल, पालक, टिंडा और बाकली इत्यादि है। सभी लोगो को हरी सब्जियो को अपने डेली डाइट में शामिल करना चाहिए।

गेंहू वाली ब्रेड

गेंहू में आयरन और फायबर पाया जाता है। डिलीवरी होने वाली महिलाओं को इसका प्रयोग जरूर करना चाहिए। जन्म देने के बाद महिला के शरीर मे आयरन की कमी हो जाती है।

अंडे

अंडे शरीर के लिए बहुत जरूरी होते है। अंडों में प्रोटीन की अधिक मात्रा होती है। अंडा नई माँ को फायदा करता है। इसके लिए उबले अंडे की भुजिया और आमलेट बनाकर खा सकते है।

अंडा महिला के शरीर में आवश्यकता की कमी को दूर कर देता है।

अजवायन

डिलिवरी के बाद सभी महिलाओं को अजवायन का इस्तेमाल करना चाहिए। अजवाइन से गैस, अपच की समस्या नही होती है।

अजवायन में एन्टी बैक्टीरियल एन्टी फंगल और एंटीसेप्टिक गुड़ मौजूद होते है। एक चम्मच में एक चुटकी अजवायन को गुनगुने पानी के साथ पी जाएं।

बादाम

बादाम से शरीर का मानसिक संतुलन बना रहता है। सभी लोगो को एक बादाम डेली जरूर खाना चाहिए। बादाम में कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ई, मैग्नीशियम कैल्शियम और पोटेशियम आदि तत्व होते है।

इसका प्रयोग डिलीवरी वाली महिलाओं को अवश्य करना चाहिए। बादाम को एक गिलास दूध के साथ पीना चाहिए।

काले और सफेद तिल

तिल से पेट साफ हो जाता है। तिलों में भरपूर मात्रा में कैल्शियम मैग्नीशियम और कॉपर होता है। तिल का प्रयोग डिलीवरी वाली महिला को जरूर करना चाहिए। तिल को चटनी और किसी मीठे पकवान में डालकर सेवन कर सकते है।




#Delivery Ke Baad Kya Khaye

0 Shares

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *