Menu Close

जानिए क्या है बेटनोवेट सी के फायदे – Betnovate c uses in hindi

बेटनोवेट सी के फायदे

बेटनोवेट सी स्किन क्रीम जो शायद एक ऐसी क्रीम है जो लगभग हर घर मे मिलती है। बेटनोवेट सी एक कॉर्टिकोस्टेरॉयड ड्रग है।साधारणतया यह त्वचा पर होने वाली किसी भी प्रकार की एलर्जी के लिए प्रयोग की जाती है। बेटनोवेट से गोरे होते है ये मिथक भी काफी प्रसिद्ध है। पर हम आपको बता दे को बेटनोवेट सी त्वचा को गोरा करने का कोई दावा नही करता। अगर आप लगातार अपने चेहरे पर बेटनोवेट सी का प्रयोग कर रहे है, तो सावधान रहे। ये आपको गोरा करने की बजाय अन्य नुकसान कर सकती है। ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन द्वारा निर्मित बेटनोवेट सी क्रीम के बारे में ही आज ये आर्टिकल हैं। आज हम आपको बताएंगे कि बेटनोवेट सी कहाँ कहाँ इस्तेमाल होती है, बेटनोवेट सी क्रीम के फायदे और नुकसान, बेटनोवेट सी कैसे काम करती है, बेटनोवेट सी क्रीम चेहरे पर लगाने से क्या होता है और इसके क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं।

Contents hide

बेटनोवेट सी क्रीम के फायदे और नुकसान

बीटामेथासोन

बीटामेथासोन वैलेरेट स्टेरॉयड नामक दवाओं के एक समूह से संबंधित है। यह सूजन और जलन को कम करने में मदद करता है।

क्लीओकुइनोल

क्लीओकुइनोल एक प्रकार का एंटी-संक्रमित दवा है। यह त्वचा के जीवाणु और फंगल संक्रमण से लड़ता है।

बेटनोवेट सी स्किन क्रीम कैसे काम करता है – Betnovate C Skin Cream Uses In Hindi

बेटनोवेट सी स्किन क्रीम एक कॉर्टिकोस्टेरॉयड ड्रग है। यह अपने एंटीबैक्टीरियल प्रभाव के कारण बैक्टीरिया को मारकर एलर्जी और खुजली आदि को दूर करता है।

See also  एलोवेरा जेल के फायदे जो न कभी सुने होंगे

बेटनोवेट सी लगाने के फायदे-Betnovate C Cream Ke Fayde In Hindi

बेटनोवेट सी कई प्रकार की त्वचा सम्बन्धी समस्याओं में फायदा करती है। आज हम आपको बताएंगे बेटनोवेट सी के फायदे, कुछ ऐसे, जिनके बारे में शायद आप न जानते हो।

त्वचा सम्बन्धी समस्याए, जैसे काले धब्बे के लिए बेटनोवेट सी

सोरयसिस [Psoriasis, खुजली [Eczema] Dermatitis [चमड़ी में खुजली दाद ], चर्म रोग [Skin disease], पिंपल्स के लिए बेटनोवेट सी [Pimple on the face], मुहाँसे[Acne], वल्गारिस, प्रुरिटस जैसी स्वास्थ्य समस्याए।

और पढ़ें: खुजली ठीक करने के उपाय दूर करे लंबे समय की खुजली

मुहाँसे
मुहाँसे

विभिन्न संक्रमण

एथ्लीट फूट [Athletic foot पैरो में फंगल होना ] वेजिनल yeast infection योनि और योनि के मुख पर सूजन, तीव्र खुजली, खाज खुजली में, Herpes simplex [सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज, जो मुँह और योनि के किनारों को प्रभावित्त करती है), कान में संक्रमण [Ear Infection], बैक्टीरियल इन्फेक्शन[Bacterial infection]

अन्य समस्याएं

रूमेटिक डिसऑर्डर[Rheumatic disorder] बुर्सिटिस, टेंडिनाइटिस, ऑस्टियोआर्थराइटिस , रूमेटोइड गठिया, में सूजन और दर्द कम करने के लिए फैशियल हेयर, स्किन का जलने पर उपयोगी [Useful on skin burns], त्वचा पर होने वाले काले दाग धब्बे, जोड़ों की सूजन [joint inflammation] दाद ,मस्सा में उपयोगों, आंखों में होने वाले संक्रमण, एलर्जी, रसायनों के संपर्क में होने के कारण हुई आंखों की जलन, सूजन, जलने से छुटकारा पाने के लिए प्रयोग किया जाता है।

बेटनोवेट-सी क्रीम का उपयोग आदि जैसी बीमारियों से जुड़ी सूजन और दर्द को कम करने के लिए किया जाता है।

और पढ़ें: दाने वाली खुजली का उपचार कैसे करें-Khujali Ke Gharelu Upay

बेटनोवेट सी क्रीम के नुकसान

हो सकता है आपको बेटनोवेट क्रीम के किसी इंग्रीडिएंट से आपको एलर्जी हो। ऐसे में इस क्रीम से आपको निम्न साइड इफ़ेक्ट हो सकते है।

  • चकत्ते
  • सूजन
  • जलन
  • खुजली
  • त्वचा की लाली
  • फफोले
  • त्वचा की जलन
  • त्वचा का सूखापन
  • मुँहासे
  • लाल चकत्ते पड़ना
See also  बारिश में भीगे बालों की केयर कैसे करें-Barish Me Balo Ki Dekhbhal

बेटनोवेट सी स्किन क्रीम को प्रयोग करने से पहले ध्यान रखे ये बात

  • शुरू में त्वचा के छोटे से हिस्से पर बेटनोवेट क्रीम का प्रयोग करके देखे, यदि आपको कोई समस्या न हो तभी बड़े हिस्से पर इसका प्रयोग करे।
  • स्तनपान और प्रेग्नेंसी के समय इस क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • प्रेगनेंसी के दौरान इसका इस्तेमाल करने के लिए डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • इस क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले और बाद में अपने हाथों को अच्छे से धो लें।
  • इस क्रीम को बच्चों से दूर रखें।
  • बेटनोवेट सी क्रीम को केवल बाहरी उपयोग के लिए इस्तेमाल करे।
  • श्वास में अन्दर लेने से और निगलने से बचें
  • क्रीम को आंखों और मुंह के संपर्क में न आने दे
  • ज्यादा लम्बे समय तक प्रयोग न करे ।
  • बुजुर्गो और अस्थमा के रोगियों के लिए सोच समझ कर प्रयोग करे।
  • बहुत ज्यादा फंगल इन्फेक्शन होने, या थाइरोइड होने पर भी बेटनोवेट सी का इस्तेमाल न करें।

Frequently Asked Questions in Hindi – सामान्य प्रश्न

बेटनोवेट क्रीम का इस्तेमाल कैसे करें

बेटनोवेट सी क्रीम का उपयोग डॉक्टर के निर्देशानुसार ही करें। डॉक्टर की बताई गई खुराक के अनुसार और बताई गई अवधि के अनुसार इसकी इसे इस्तेमाल करें। इस्तेमाल करने से पहले लेबल की जांच कर ले और अच्छे से लेबल को पढ़ ले। इस्तेमाल करने के बाद हाथों को अच्छे से धो और यदि प्रभावित एरिया हाथों पर ही है तो हाथों को ना धोए।

बेटनोवेट क्रीम कैसे लगाते हैं?

बेटनोवेट क्रीम कई सारी दवाओं से मिलकर बनती है ,इसका प्रयोग स्किन इंफेक्शन के इलाज के लिए किया जाता है । बेटनोवेट क्रीम का प्रयोग त्वचा के शुष्क स्थान पर किया जाना चाहिए । क्रीम लगाने से पहले हाथों को अच्छी तरह से धो लें, जहां क्रीम लगाना है उस त्वचा को भी साफ और सूखा कर लें । अब स्क्रीन की एक मोटी परत इनफेक्टेड जगह पर लगाएं और उसे खुला छोड़ दें ,जल्दी आराम के लिए इसे रात भर लगा कर रखें। इस क्रीम को आंख, नाक वह मुंह के सीधे संपर्क में ना आने दें, यदि गलती से ऐसा हो जाए तो तुरंत पानी से धो दें ।

See also  बालो के लिए जैतून का तेल कौन सा है बेस्ट और फायदेमंद-Jaitun Oil For Hair In Hindi

बेटनोवेट एन लगाने से चेहरे पर क्या होता है?

बेटनोवेट - एन एक एंटीबैक्टीरियल क्रीम है इसका प्रयोग केवल इंफेक्शन या घाव होने पर किया जाता है । बेटनोवेट -एन क्रीम का प्रयोग फेयरनेस क्रीम के रूप में नहीं करना चाहिए ।चेहरे पर बेटनोवेट -एन क्रीम को लगाने से कुछ समय के लिए ऐसा लगता है कि चेहरे पर निखार आ रहा है परंतु लगातार इसका प्रयोग करने से चेहरे का रंग काला पड़ सकता है और इस पर दाने निकल सकते हैं ।

बेटनोवेट सी कैसे यूज़ किया जाता है?

बेटनोवेट सी क्रीम का उपयोग बाहरी अंगों पर लगाने के लिए किया जाता है। इस क्रीम का प्रयोग करने के लिए त्वचा की प्रभावित हिस्से को साफ करके सुखा लें उसके बाद स्क्रीन की पतली परत प्रभावित क्षेत्र पर लगाकर उसे खुला छोड़ दें, प्रभावित क्षेत्र पर किसी प्रकार की पट्टी ना बांधे , चाहे तो रात भर लगाकर भी रख सकते हैं। क्रीम का प्रयोग आंख, नाक, मुंह अथवा योनि पर ना करें। यदि गलती से भी इन क्षेत्रों पर क्रीम लग जाता है तो उसे तुरंत पानी से साफ करें। बेटनोवेट सी क्रीम एक एंटीबैक्टीरियल क्रीम है इसका प्रयोग डॉक्टर की सलाह से ही करें ।

बेटनोवेट N क्रीम लगाने से क्या होता है?

बेटनोवेट एन क्रीम का प्रयोग त्वचा की समस्या जैसे सूजन, लालिमा, एग्जिमा , जहरीले कीड़ों के काटने अथवा सोरायसिस में किया जाता है। यह कई सारी दवाओं से मिलकर बनी एक एंटीबैक्टीरियल क्रीम है।यह क्रीम इन्फेक्शन के कारण पैदा होने वाले सूक्ष्मजीवों के खिलाफ एंटीमाइक्रोबियल एक्शन का कार्य करती है । दिन में दो बार डॉक्टर की सलाह के अनुसार क्रीम की पतली परत लगाने से त्वचा की खुजली जलन ,लालिमा ,सूजन दूर होती है।

error: Content is protected !!